9 aise kanoon jinke bare me zyada log nahi jante

इस आर्टिकल में आप जानेगे 9 ऐसे कानूनों के बारे में जिन्हे 90% लोग नहीं जानते। जब उनपर जुरमाना लगता है तब पता चलता ह

  • अगर आपने किसी अंजान को अपनी गाड़ी में लिफ्ट दी है तो यह काम आपका चालान करवा सकता है. वो इसलिए कि किसी भी अंजान आदमी को अपनी प्राइवेट गाड़ी में लिफ्ट देना गैर-कानूनी है. इसमें मोटर व्हीकल एक्ट की धारा 66/192 के तहत 5000 रुपए तक का चालान हो सकता है. धारा 66/192 के तहत हुए चालान में लाइसेंस कोर्ट से ही वापस मिलता है.
  • सीआरपीसी सेक्शन 41D के तहत अगर किसी मामले में आपको गिरफ्तार किया गया है और पुलिस आपसे पूछताछ करना चाहती है तो आप अपने वक़ील के आने की प्रतीक्षा कर सकते है आपको पुलिस को कुछ कहने/बताने की ज़रूरत नही।
  • पुलिस को FIR लिखना अनिवार्य है यदि पुलिस FIR लिखने से मना करती है तो आप सीआरपीसी सेक्शन 156(3) के अनुसार डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट से शिकायत कर सकते है। वो उन्हें FIR दर्ज़ करने का आदेश देगी। डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट 24x7 उपलब्ध होते हैं। यही बात बेल लेने में लागू होती है। शनिवार है रविवार है का बहाना नही चलता।
  • सीआरपीसी सेक्शन 50(1) अगर गिरफ्तार किया जा रहा है तो आप वारंट पूछ सकते है। पुलिस अगर वारंट प्रस्तुत नहीं करती तो आप चार्ज क्या लगाया पूछ सकते है। हालांकि हर बार वारंट जरूरी नही होता। शराब पीकर गाड़ी चलाने या संगीन अपराध के मामले में बिना वारंट गिरफ्तारी हो सकती है।
  • Live-in relationship अवैध नही है। सुप्रीम कोर्ट live-in relationship को शादी के बराबर मानती है। पार्टनर को छोड़ने पर maintenance और alimony देना पड़ेगा। Domestic violence के नियम भी मान्य है।
  • The Sarais Act 1867 Section 7(2) के तहत आप किसी भी होटल से मुफ़्त में पानी पी सकते है और वॉशरूम का प्रयोग कर सकते है। होटल वाले मना नही कर सकते।
  • डेंटिस्ट एक्ट 1948 के Section 49 के अनुसार सड़क दंत चिकित्सा भारत में गैरकानूनी है. भले ही वो 10 हज़ार के इलाज के बदले 150 रूपये ही क्यों ना लेते हों. ठीक इसी तरह सड़क के किनारे कान साफ़ करवाना भी गैरकानूनी है.
  • इंडियन ट्रेजर ट्राव एक्ट, 1878 के अनुसार, किसी भी प्रकार का खजाना आप अगर पाते हैं, और उसका मूल्य अगर 10 रूपये तक का है तो आप उसे रख सकते हैं. पर यदि वो उससे ज्यादा मूल्यवान है, तो आपको Official sources को सूचित करना पड़ेगा. आपने किसी कारणवश सूचित नहीं किया या पैसे देख कर आपकी नियत बदल गयी, तो ये कानून के खिलाफ है.
  • Aircraft act 1934 सेक्शन 2 के मुताबिक़ आप पंतग नही उड़ा सकते। पतंग या बैलून आदि उड़ाने के लिए आपको लाइसेंस लेना पड़ेगा। इस नियम में अगर आपको दोषी पाया गया तो 10 लाख रुपये तक का जुर्माना भरना पड़ा सकता है।

मोटर वेहिकल एक्ट के अन्य अजीब कानून...

  • अगर आप पार्किंग लॉट में किसी ऐसे इंसान की वजह से फंस गए हैं जिसने आपकी गाड़ी के सामने कार पार्क की है तो वो इंसान क्राइम कर रहा है और इसके लिए उसे 100 रुपए जुर्माना देना होगा.
  • अगर गाड़ी में हॉर्न नहीं है तो भी आपको दिक्कत हो सकती है. कानून कहता है कि अगर बिना हॉर्न वाली गाड़ी चलाई जा रही है तो आपको 100 रुपए का जुर्माना देना होगा.
  • चेन्नई और कोलकता में अगर ड्राइवर अपना पैसेंजर फर्स्ट एड एक्सिडेंट के समय नहीं दिखा पाया तो तीन महीने तक की जेल और 500 रुपए का जुर्माना हो सकता है.
  • दिल्ली वालों के लिए ये नियम खास है. अगर वो कार के अंदर सिगरेट पीते पाए गए तो उन्हें 100 रुपए का जुर्माना देना होगा.
  • कोलकता में किसी पब्लिक सर्विस जैसे बस स्टॉप के बाहर पार्किंग करने पर 100 रुपए का जुर्माना लग सकता है.
  • चेन्नई वाले बिना दोस्त की परमीशन किसी दोस्त की गाड़ी नहीं चला सकते. अगर ऐसा करते पाए गए तो 500 रुपए का जुर्माना देना होगा.
  • मुंबई में गाड़ी में टीवी या कोई भी वीडियो डिवाइस अपने डैशबोर्ड पर लगाने को क्राइम माना जाता है और किसी भी ड्राइवर को इसके कारण 100 रुपए का जुर्माना देना पड़ सकता है.
  • मुंबई में अगर आपने अपनी गाड़ी का इंजन ऑन करके छोड़ दिया है तो उस वजह से भी आपको 100 रुपए का जुर्माना देना पड़ सकता है.
294 Views